रायगढ़(अनिल आहूजा वायरलेस न्यूज़) पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के कुशल नेतृत्व में रायगढ़ पुलिस अनसुलझे व संवेदनशील मामलों का शीघ्र पटाक्षेप करने में अब तक सफल रही है । अमूमन हर संवेदनशील मामले में अनुसंधान टीम को सायबर सेल का विशेष सहयोग प्राप्त होता है । ज्ञात हो कि गत दिनों खरसिया थाना क्षेत्र में अपहृत बालक शिवांश अपहरण मामले में आरोपियों की एग्जैक्ट रनिंग लोकेशन प्राप्त कर “ऑपरेशन शिवांश” में लगी टीमों को प्रदाय करने में सायबर सेल रायगढ़ की भी महत्वपूर्ण भूमिका रही । पुलिस अधीक्षक के दिशा निर्देशन पर गंभीर मामलों की जांच टीम में सायबर सेल को संलग्न किया जाता है ।

इस माह विशेष अभियान में सायबर सेल द्वारा रिकव्हर किये गये, मोबाइलों के वितरण हेतु मोबाइल स्वामियों को कार्यालय बुलाया गया था । एसपी आफिस आये मीडिया साथियों को एसपी संतोष सिंह जानकारी देते हुये बताये कि आज मोबाइल केवल बातचीत का माध्यम नहीं रह गया है, बहुत से लोग अपने जरूरत के महत्वपूर्ण कागजात, रिकार्ड, फोटो/विडियो आदि अपने मोबाइल पर स्टोर कर रखते हैं । मोबाइल गुम या चोरी हो जाने पर वे परेशान होते हैं साथ ही मोबाइल पर स्टोर महत्वपूर्ण दस्तावेजो के दुरूपयोग की भी सम्भावना बनी रहती है, जिसे देखते हुये सायबर सेल को विशेष अभियान चलाकर अधिक से अधिक मोबाइल रिकव्हर के निर्देश दिये गये थे, जिस पर त्वरित कारवाई करते हुये इस माह *110 नग विभिन्न कम्पनियों के मोबाइलों* की रिकव्हरी की गई है । सायबर सेल द्वारा विगत 1 वर्षों में सायबर सेल रायगढ़ द्वारा *50 लाख कीमत* के *382 मोबाइल* रिकव्हर कर मोबाइल स्वामियों के सुपुर्द किया गया है । आज *चौथी बार* मोबाइल स्वामियों को उनके गुम/चोरी हुये मोबाइल वापस किये जा रहे हैं । वे बताये कि यदि किसी को गुम/चोरी मोबाइल प्राप्त होती है तो नजदीकी थाने में जमा करें अथवा स्वयं ही मोबाइल स्वामी को कॉल कर उसे वापस लौटाये, किसी अन्य की मोबाइल का प्रयोग अपराध की श्रेणी में आता है । उन्होंने बताया कि सायबर सेल की चेतावनी के बाद भी मोबाइल उपयोग कर वापस नहीं कर रहे व्यक्तियों पर कार्यवाही की जावेगी ।

विशेष अभियान के तहत सायबर सेल के प्रशिक्षित प्रधान आरक्षक/आरक्षक सायबर सेल का स्टॉफ गुम अथवा चोरी हुए मोबाइलों का लोकेशन ट्रेस कर संबंधित धारकों से संपर्क कर मोबाइल वापस करने की चेतावनी देने पर मोबाइल उपयोग कर रहे व्यक्तियों द्वारा मोबाइल निकटतम थाना में जमा किया गया अथवा कोरियर के माध्यम से सायबर सेल भेजें गये। विशेष अभियान में इस माह चोरी/गुम मोबाइलों के संबंध में प्राप्त आवेदनों पर कारवाई करते हुये सायबर सेल द्वारा *110 नग विभिन्न कम्पनियों के मोबाइलों* की रिकव्हरी की गई है । इनमें से 85 नग मोबाइल राज्य के रायपुर, बिलासपुर, अंबिकापुर, बलौदा बाजार, जांजगीर-चांपा, महासमुंद, सूरजपुर, जशपुर, मुंगेली से तथा शेष 25 नग मोबाइल दिगर प्रांत के जिला आजमगढ़, शहडोल, सतना, राउरकेला, बंदबहाल सुंदरगढ़, बोकारो, संबलपुर से कोरियर के माध्यम से मंगाये गये हैं । इस माह बरामद किये गये मोबाइलों की *कुल कीमती 15,00,000 रुपए* के हैं , खास बात यह है कि रिकव्हर किए गए कुछ मोबाइल करीब ₹30-40,000 महंगे हैं ।

आज पुलिस अधीक्षक कार्यालय में अपनी गुम मोबाइल प्राप्त करने कार्यालय आये 52 मोबाइल स्वामियों को एसपी संतोष सिंह मोबाइल सुपुर्द कर मुस्कुराते हुये बोले कि दोबारा गुमाने की गलती न करना । तब कुछ लोगों ने बताया कि मोबाइल खोने के बाद पाने की उम्मीद छोड़ दिये थे, ऐसे में मोबाइल पाकर वे काफी खुश थे, उनके चेहरे पर खुशी साफ तौर पर देखी जा सकती थी, पुलिस के इस कार्य की सभी लोगों द्वारा सराहना की जा रही थी । बरामद किये गये कुछ मोबाइल के आवेदनकर्ता द्वारा आवेदन पत्र में मोबाइल के घर से चोरी जाना लेख किया गया था, इस पर संबंधित धारक के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करने की कार्यवाही अमल में लाई जावेगी । आज जो मोबाइल स्वामी एसपी ऑफिस पहुंच नहीं पाए वे साइबर सेल (थाना चक्रधर नगर के पास) जाकर अपना मोबाइल प्राप्त कर सकते हैं। एसपी रायगढ़ द्वारा मोबाइल ढूंढ निकालने के दिये गये टास्क में सायबर सेल स्टाफ को एडिशनल एसपी अभिषेक वर्मा, सीएसपी रायगढ़ श्री अविनाश सिंह ठाकुर का महत्वपूर्ण दिशा निर्देश प्राप्त हुआ और निर्धारित समय में सायबर सेल के प्रधान आरक्षक राजेश पटेल, दुर्गेश सिंह, आरक्षक बृज लाल गुर्जर, धनंजय कश्यप, प्रशांत पंडा एवं महिला आरक्षक मेनका चौहान अधिक से अधिक मोबाइल रिकव्हर करने में सफल रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *