किशोर कर ब्यूरोचीफ महासमुंद

जनपद पंचायत सरायपाली की पहल पर गंदगी मुक्त हुआ शिशुपाल पर्वत

डेढ़ सौ लोगों ने सफाई अभियान में की सहभागिता

महासमुन्द – महासमुन्द जिले की सबसे ऊंची पर्वत श्रृंखला के बीच स्थित शिशुपाल पर्वत के एक हजार फीट ऊंचाई पर फैली गंदगी और अन्य अपशिष्ट पदार्थों की सफाई अभियान चलाकर जनपद पंचायत सरायपाली ने मिशाल कायम की है। महासमुंद जिले के जनपद पंचायत सराईपाली में पदस्थ डिप्टी कलेक्टर एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ स्निग्धा तिवारी की पहल पर सरायपाली अनुभाग क्षेत्र के पर्यटन स्थल के रूप में विकसित शिशुपाल पर्वत के ऊपर और उसकी तलहटी में फैली गंदगी को पूरी तरह से साफ कर दिया गया है। हम आपको बता दें कि शिशुपाल पर्वत महासमुंद जिले का सबसे ऊंचा पर्वत है जहां प्रतिवर्ष सैकड़ों की संख्या में लोग घोड़ाधार जलप्रपात पहुंचते हैं तथा पिकनिक स्पॉट के रूप में यह स्थल विकसित हो रहा है लेकिन लोगों की आवाजाही से इस स्थल पर कूड़ा करकट एवं अन्य अपशिष्ट पदार्थ तेजी से फैल रहा था और पूरा परिसर और पर्वत का ऊपरी हिस्सा भी काफी गंदा हो चुका था। ऊपर बहने वाली सदा वाहिनी घोड़ाधार जल प्रपात के आसपास भी कूड़ा करकट फैले होने से जलप्रपात का पानी भी प्रदूषित हो रहा था इसी को देखकर सरायपाली जनपद पंचायत में पदस्थ संवेदनशील सीईओ डॉक्टर स्निग्धा तिवारी ने शिशुपाल पर्वत के सफाई की मुहिम शुरू की और 27 फरवरी को अंचल के तमाम पंचायत प्रतिनिधियों सचिवों और जनपद पंचायत के कर्मचारियों सहित नागरिक एकता समिति सरायपाली के सदस्यों के सहयोग से पर्वत की तलहटी और पर्वत के ऊपर जाकर सफाई अभियान चलाया गया। अभियान के दौरान लगभग 10 घंटे की अथक प्रयासों से शिशुपाल पर्वत के ऊपर और उसके तलहटी को पूरी तरह से कचरा मुक्त किया गया है । इस कार्य में लगभग डेढ़ सौ लोगों का सहयोग रहा। जनपद पंचायत सरायपाली की पहल पर चलाए गए सफाई अभियान के बाद अब शिशुपाल पर्वत और उसके आसपास का इलाका पूरी तरह से साफ सुथरा नजर आ रहा है। हम आपको बता दें कि जनपद पंचायत की पहल पर चलाए गए इस अभियान में “स्वच्छ शिशुपाल हरियर शिशुपाल” के थीम पर सफाई अभियान की मुहिम चलाई गई जिसमें आसपास के लोगों ने भी बढ़-चढ़कर सहभागिता की। शिशुपाल पर्वत की सफाई के बाद जनपद पंचायत सीईओ द्वारा आसपास के ग्राम पंचायतों को भी निर्देशित किया गया है जिसमें कहा गया है कि शिशुपाल पर्वत और पर्यटन स्थल के आसपास कचरा फैलाने वालों पर जुर्माना लगाया जाय , जिससे यहां स्थल स्वच्छ रहे और लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बना रहे। जनपद पंचायत सीईओ डॉ स्निग्धा तिवारी के स्वच्छता को लेकर की गई इस पहल की सभी ओर सराहना की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *