कोरबा (वायरलेस न्यूज़) पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर के पुत्र संदीप कंवर के द्वारा अपने निवास के आसपास संदिग्ध गतिविधि करने एवं वाहन क्रमांक सीजी-12 एयु 8226 से परिवार के सदस्यों का पीछा करने व जान का खतरा होने की संभावना व्यक्त कर शिवम पांडेय ने पुलिस से सुरक्षा व कार्यवाही चाही है। इस संबंध में सृष्टि इंस्टीट्यूट के अध्यक्ष महाराणा प्रताप नगर, निहारिका निवासी देवेन्द्र पांडेय के पुत्र शिवम पांडेय ने आज कोतवाली थाना के रामपुर पुलिस चौकी में शिकायत पत्र दिया है। पुलिस को बताया गया कि संदीप कंवर और मेरे (शिवम के) परिवार के मध्य हुए विवाद संबंधित शिकायत वरिष्ठ पुलिस अधिकारियो के समक्ष किया गया था। मुख्य रूप से अपने परिवार के जान माल के लिये पुलिस सुरक्षा प्रदान करने प्रार्थना किया गया था परंतु अभी तक इस पर कोई कार्यवाही नहीं किया गया है। संदीप कंवर अभी भी बदनियती से शिवम पांडेय के घर के चक्कर काट रहा है एवं परिवार के सदस्यो का पीछा कर रहा है। संदीप कंवर का वाहन क्रमांक सीजी 12 एयु 8226 को अक्सर मेरे घर के इर्द- गिर्द चक्कर काटते देखा गया है एवं कई संदिग्ध व्यक्तियो के साथ वाहन को घर के समीप निगरानी करते खड़ा देखा गया है। शिवम का कहना है कि संदीप कंवर आदतन नशेड़ी व्यक्ति है, इस स्थिती में वह परिवार के साथ कोई भी दुर्घटना कर सकता है। शिवम को विश्वस्त सूत्रों से सूचना प्राप्त हुआ है कि संदीप कंवर के द्वारा उसके परिवार को हानि पहुचाने के लिये एक पेशेवर अपराधी के साथ 5 लाख रूपये में सौदा तय किया गया है। संदीप कंवर की इस संदिग्ध गतिविधी से शिवम ने स्वयं और परिवार को असुरक्षित महसूस करना बताकर सुरक्षा के लिये संदीप कंवर पर शीघ्रतिशीघ्र कार्यवाही करते हुये परिवार को पुलिस द्वारा सुरक्षा प्रदान करने का आग्रह किया है। आवेदन के साथ शिवम ने अपने घर के आसपास घूम रही संदीप कंवर की गाड़ी की तस्वीर भी संलग्न की है।

2016 में भी आईजी से की गई थी संदीप की शिकायत

शिवम पाण्डेय ने बताया कि वर्ष 2016 में सृष्टि इंस्टीट्यूट के अध्यक्ष देवेन्द्र पाण्डेय ने संदीप कंवर की शिकायत पुलिस महानिरीक्षक बिलासपुर संभाग से की थी और संदीप पर अपराध दर्ज कर जान-माल की सुरक्षा का आग्रह किया था। घटना तारीख 3 जून 2016 को सृष्टि मेडिकल कॉलेज परिसर में संदीप कंवर के द्वारा राखड़ भरे वाहनों को अनाधिकृत रूप से खड़ा कराया जा रहा था। इसकी जानकारी होने पर मना किया गया तो जान से मारने व अन्य तरह की धमकियां प्रबंध संचालक सदस्यों को दी गई थी। देवेन्द्र पाण्डेय की समझाइश पर भी फोन पर गालियां दी। शिवम पाण्डेय ने बताया कि 9 जून 2016 को जब उसके पिता और दादी ननकीराम कंवर के घर गए थे तब संदीप कंवर ने कार में बैठी दादी पर पत्थर से वार कर दिया था जो कांच को तोड़ते हुए सिर में लगा। इसके बाद संदीप कंवर पुरानी बस्ती स्थित देवेन्द्र पाण्डेय के निवास में जाकर पत्नी और बेटी को गाली-गलौच कर उठवा लेने की धमकी दिया। संदीप ने 15 जुलाई 2016 को फोन कर देवेन्द्र पाण्डेय को गालियां दी और जातिगत झूठे प्रकरण में फंसाने की धमकी भी दी थी। संदीप कंवर से जान-माल और सम्मान का नुकसान के लिए षडयंत्र रचने के साथ ही लगातार भयादोहन करने से दहशतजदा पाण्डेय परिवार ने अपराध दर्ज कर कठोर कार्यवाही एवं सुरक्षा की गुहार लगाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *